पटना: बिहार में राजद के अंदर लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के दोनों बेटों के बीच बयानों की राजनीति एक बार फिर से शुरू हो गई है. लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव (Tejpratap Yadav) ने शनिवार को ये कहा था कि कुछ लोगों द्वारा लालू प्रसाद यादव को दिल्ली में बंधक बना लिया गया है. उनके इस बयान के बाद छोटे भाई तेजस्वी प्रसाद यादव (Tejashwi Yadav) ने भी प्रतिक्रिया जाहिर की है.

दिल्ली से पटना लौटे तेजस्वी प्रसाद यादव ने रविवार को संवाददाताओं से बातचीत की और कहा कि लालू प्रसाद यादव को बंधक बनाए जाने की बात उनके व्यक्तित्व से कतई नहीं मिलती. तेजस्वी यादव ने कहा कि लालू यादव ने कई ऐसे बड़े काम किए हैं जिससे देश भर के और बिहार भर के लोग उन्हें जानते और पहचानते हैं. तेजस्वी यादव ने कहा कि लालू प्रसाद यादव लंबे समय तक बिहार के मुख्यमंत्री रहे हैं और राजनीति में उनकी भूमिका कितनी महत्वपूर्ण थी.

इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि वह केंद्र में रेल मंत्री भी रहे और दो-दो प्रधानमंत्रियों को बनाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया. तेजस्वी ने कहा कि लालू प्रसाद यादव ही वो मुख्यमंत्री हैं जिन्होंने लालकृष्ण आडवाणी को गिरफ्तार करवाया था. नीति आयोग के रिपोर्ट की चर्चा करते हुए तेजस्वी यादव ने कहां कि नीति आयोग की रिपोर्ट बिहार की असलियत है. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी ने आरोप लगाया कि बिहार में भ्रष्टाचार और अपराध चरम पर है और यही हकीकत भी है.

 

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Coronavirus Stats

Confirmed cases: 1,24,85,509 Recovered: 1,16,29,289 Deaths: 1,64,623